12 मई: अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस, फ्लोरेंस नाइटिंगल का जन्मदिन

प्रत्येक वर्ष 12 मई को दुनिया भर में अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस (International Nurses Day) मनाया जाता है. यह दिन समाज में नर्सों के योगदान को समर्पित होता है.

अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस 2023 की थीम

इस वर्ष यानी 2023 के अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस का मुख्य विषय (थीम)- ‘हमारी नर्सें, हमारा भविष्य’ (Our Nurses, Our Future) है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने वर्ष 2020 को नर्स और मिडवाइफ के अन्तर्राष्ट्रीय वर्ष (International Year of the Nurse and the Midwife) के रूप में घोषित किया था.

अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस का इतिहास

अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस को पहली बार 1965 में इंटरनैशनल काउंसिल ऑफ नर्सेज (ICN) द्वारा मनाया गया था. जनवरी 1974 से यह प्रत्येक वर्ष 12 मई को मनाया जाने लगा.

फ्लोरेंस नाइटिंगल का जन्मदिन

अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस आधुनिक नर्सिंग की संस्थापक फ्लोरेंस नाइटिंगेल के जन्मदिन पर मनाया जाता है. फ्लोरेंस नाइटिंगेल का जन्म 12 मई, 1820 को इटली के फ्लोरेंस में हुआ था.

नाइटिंगल रात के समय जब वह मरीजों को देखने जातीं तो लालटेन हाथ में लेकर जाती थीं. इस वजह से सैनिकों ने उनको ‘लेडी विद लैंप’ (The Lady with the Lamp) कहना शुरू कर दिया.

राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरस्‍कार

भारत में हर साल 12 मई को राष्‍ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरस्‍कार दिया जाता है. इसकी शुरुआत 1973 में भारत सरकार के परिवार एवं कल्‍याण मंत्रालय ने की थी. नर्सों की सराहनीय सेवा को मान्‍यता प्रदान करने के लिए राष्ट्रपति द्वारा यह पुरस्कार प्रदान किया जाता है. फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरस्‍कार में 50 हज़ार रुपए नकद, एक प्रशस्ति पत्र और मेडल दिया जाता है.

लेटेस्ट कर्रेंट अफेयर्स 〉